SEO

SEO क्या है? और SEO के प्रकार [ Ultimate Guide For Beginners 2018 ]

SEO क्या है? Blogging शुरू करने से पहले हर एक Blogger के दिमाग मे यह सवाल आता है। Blogging के लिए SEO बहुत ही अहमियत रखता है। इसी लिए SEO के बारे में जानना आवश्यक होता है। तो आज की इस Post में हम आपको SEO के बारे में विस्तार से आपको समजाने की कोशिश करेंगे। और आपके हर सवाल के जवाब को विस्तृत से समजाने की कोशिश करेंगे। चलिए शुरू करते है।




SEO क्या है ?

SEO
Tech Post Zone

दोस्तो आपको एक बात बतादूँ की SEO का फुलफोर्म Search Engine Optimization होता है। यदि आपको आपकी Website या फिर कोई Web Page को Search Engine में रैंक करवाना है तो आपको आपकी Website या Web Page के लिए SEO करना पड़ेगा। चाहे आपने Website Blogging के लिए बनाई हुई है या फिर कोई Business के मकसद से तो भी आपको SEO की आवश्यकता होगी। बिना SEO आप कभी ज्यादा Traffic अपनी Website पे नही ले आ पाएंगे। वैसे सबसे पहली प्राथमिकता आपको आपके Content को देनी होगी न कि SEO को। क्योंकि Google यह कहता है कि Content Is King. यदि आपने अपना Content है उसपे ज्यादा Focus किया हुआ है और उसको अच्छे से लिखा है एक दम Genuine लिखा हुआ है तो फिर आपको SEO की कोई जरूरत नही है। अपने आप ही आपकी Website रैंक होने लगेगी। Google हमेशा यही चाहेगा कि वो Search करने वाले को अच्छी जानकारी प्रदान कर सके। इसीलिए Google सबसे पहले Content को प्राथमिकता देता है। Google के मुख्यत्वे 200 रैंकिंग फैक्टर्स है, उन रैंकिंग फैक्टर्स के अनुसार ही कोई भी Website या Web Page रैंक करती है। हालांकि वो कोनसे रैंकिंग फैक्टर्स है उसके बारे में Google कभी नही बताता है, वो सीक्रेट है।  SEO मुख्यत्वे दो प्रकार के होते हैं। (1) On Page SEO और (2) Off Page SEO. चलिए इन दोनों प्रकार को विस्तार से जानते है।

On Page SEO क्या है ?

दोस्तो On Page SEO वो होता है जो आपको आपके कंटेंट के साथ मे करना होता है। यदि आप कोई भी Blog Post लिख रहे हैं अपनी Website के लिए तो उसी Post में जो भी SEO का वर्क करना पड़ता है उसे On Page SEO कहते है। आईये विस्तार से जानते है।

SEO
Tech Post Zone

आपकी लिखी हुई Post को Optimize करना ही On Page SEO कहते है। On Page SEO में Google के कई ऐसे रैंकिंग फैक्टर्स है जो अहमियत रखते है। जैसे कि,

Blog Writing

आप जो भी Blog Post लिखते है उसको अच्छे से लिखना चाहिए। H1, H2, H3, H4 Headers का Use करना चाहिए। आप जो भी Sentence लिखते है वो Viewers को अच्छे से समज में आ सके इस तरह से लिखना चाहिए। आप जो भी Post लिख रहे है वो Unique होनी चाहिए , किसी की Copy नही होनी चाहिए वरना कभी आप अपनी पोस्ट को रैंक नही करवा पाएंगे। Minimum 300 Words की पोस्ट आपको लिखनी पड़ेगी। जितनी लंबी Post लिखेंगे उतना ज्यादा फायदा होगा आपके लिए। Search Engine में रैंक करवा ने के लिए हमेशा Competition रहता है, तो मेरी यह ही राय होगी कि आप Post को Minimum 2000 Words की लिखे। फिर आसानी हो जाएगी रैंक करवाने में।

Keyword

Keyword भी Page Rank करवाने में अहम रोल प्ले करता है Keyword वो होता है जो लोग Search Engine में Search करते है। आप जिस भी Keyword को रैंक करवा ना चाहते है उसे पहले Paragraph में रखिये और Title में भी उसको रखिये ताकि Search Engine को पता चले कि आप किस विषय पे लिख रहे है। और दूसरे Keyword होते है उनको H2, H3, H4 हैडिंग्स में रखिये। आप जिस भी Keyword को Focus करते है वो Keyword आपकी Post  में कहीं न कहीं पे लिखा हुआ होना चाहिए। ये बात याद रहे कि जो भी Focus Keyword लिखा हुआ है उस की Density Maximum 2.5% ही होनी चाहिए। उससे ज्यादा नही होनी चाहिए वरना Google को ऐसा लगेगा कि आप Scam कर रहे है और आपकी पोस्ट कभी रैंक नही होगी। अभी आपके मन मे यह प्रश्न होगा कि Keyword की Density कैसे तय करे तो में आपको बतादूँ की यदि आप 300 Words की Post लिखते है तो फिर उस Post  में 4 बार Focus Keyword आना चाहिए। उससे ज्यादा नही।

Meta Description

यह सबसे Importent होता है आप जिस भी Topic पे Post लिखते है उनके बारे में 150 Text का Meta Description आपको लिखना होता है। Meta Description इसलिए लिखना होता है , ताकि Visitor को ये पता चले कि आपने Post में किस बारे में लिखा है। Meta Description लिखोगे तो ही Google Crawler को पता चलेगा कि आप ने Post किस बारे में लिखी है। इसीलिए Meta Description बहुत ही इम्पोर्टेन्ट है।

Image Optimization

आप जो भी Image अपनी Post में डालते है उसको भी Optimize करना पड़ता है। एक बात याद रहे कि जो भी Image आप Post में लगाते है वो किसी की Copy नही होनी चाहिए वो आप ही की Image होनी चाहिए। दुसरो की image आप नही लगा सकते। हो सके तो आप जो भी Image अपनी Post में लगा रहे है वो Size में छोटी होनी चाहिए यदि आप 1 या 2 MB के Size की Image लगाएंगे तो फिर आपकी Post को Load होने में ज्यादा वक्त लगेगा। और Visitor जल्द ही आपकी Post से वापस चला जायेगा। हो सके तो Image को Compress करके Upload कीजिये। अभी दूसरे नंबर पे आता है alt text लगाना Image में। alt text मूल रूप से आपका Focus Keyword ही होता है। Image में Caption डालना। इतनी बातों का ध्यान रखना होगा।

Internal Linking

जब भी आप अपनी Post में दूसरी Website या फिर आप ही कि Website के कोई भी Page या Post की Link डालते है उसको Internal Linking कहते है। Internal Linking से आपको Reffral Traffic मिलेगी साथ मे रैंकिंग भी Improve होगी। क्योंकि जब भी कोई Visitor आपकी Post पे आएगा तब आपने जो भी आपकी दूसरी Post की लिंक उसमे दी हुई है उसको भी वो शायद Visit कर ले। तो ऐसे में आपकी ही Traffic बढ़ेगी। एक बात याद रखना आप जिस भी Link को अपनी Post में Add कर रहे है, वो आपके Post से Related हो वरना कोई भी उस लिंक को Visit नही करेगा।

तो दोस्तो यह कुछ मुख्य Fact थे On Page SEO के जो मेने आपको बताए है। उम्मीद करता हु आप On Page SEO को अच्छे से समज गए होंगे। अभी Off Page SEO के बारे में जानते है।



Off Page SEO क्या है? 

Off Page SEO वो होता है जो आपके Content के बाहर किया जाता है। इस मे मुख्यत्वे Link Building, Social Media Promotion, Web Master Tool इत्यादि का समावेश होता है। चलिए इसको विस्तार से समझते है।
SEO
Tech Post Zone

Link Building

Link Building की SEO में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका होती है। Link Building को आप Backlinks भी कह सकते है। Backlinks क्या है? और Backlinks कैसे बनाते है?  ये अगर आपको नही पता है तो आप हमारी दूसरी Post पढ़ सकते है। इसमें होता क्या है कि जब भी आपका Page या फिर Website किसी दूसरी Website से लिंक होती है तब उसको 1 Backlink जाता है। Link Building में आपको दूसरी Websites पे अपनी Website का Link देना होगा। हालांकि इसके लिए आपको दूसरी Websites के Admin को Contact करना पड़ेगा। या फिर आप Commenting के जरिये भी Link प्राप्त कर सकते है। जितनी ज्यादा आपके पास Link होगी उतनी ही आपकी रैंकिंग अच्छी होगी।

Social Media Promotion

Social Media पे अपनी Post को Promote या फिर Share कीजिये वहां से आप अच्छी खासी Referral Traffic Gain कर पाएंगे। आपको आपकी Website के Social Media पे अपने Account बनाने होंगे। Account बनाने के बाद आप अपनी Website को वहां पे Share या Promote भी कर सकते है। एक बात याद रखना की जो भी Post आप लिखते हो वो Shareable होना चाहिए। जो Visitor आते है उनको Share करने जैसा लगना चाहिए। तभी ही वो share करेंगे।

Web Master Tool

Web Master Tool सामान्य रूप से Google का ही एक Tool है वहाँ पे जाके आपको आपकी Website का .xml Sitemap Submit करवा ना होगा। तभी ही आपकी Website Search Engine में दिखेगी। इसी तरह आपको आपकी Website का .xml Sitemap दूसरी Web Directories में सबमिट करवाना होगा।



यह सिर्फ SEO की Basic Information ही दी गई है। इसके अलावा भी और कई रैंकिंग फैक्टर्स है जो आपको रैंक करवाने में मदद करेंगे। दोस्तो उम्मीद करता हुं की आपको SEO के बारे में सब कुछ समझ में आ गया होगा। फिर भी कोई प्रश्न है तो हमे Comment Box में Comment कीजिये हम आपको उसका उत्तर अवश्य देंगे। Post अगर अच्छी लगी हो तो इसको दूसरे लोगो के साथ भी share कीजिये ताकि जो भी नए लोग Blogging करना चाहते है उसको SEO के बारे में जानकारी मिल सके। धन्यवाद दोस्तो।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *